Ranchi News

प्रदेश कांग्रेस नेता आलोक दूबे,किशोर शाहदेव एवं डॉ राजेश गुप्ता ने बाबा साहेब की प्रतिमा के समक्ष संविधान निर्माताओं को नमन किया

संविधान में दिए गये मौलिक अधिकार हमारी ढ़ाल बनकर हमें हमारा हक दिलाते हैं तो वहीं इसमें दिए गये मौलिक कर्तव्य हमें हमारी जिम्मेदारियों का भी एहसास कराते हैं – आलोक कुमार दूबे, वरिष्ठ कांग्रेस नेता
संविधान लोकतंत्र की आत्मा है – आलोक दूबे
संविधान ही है जो अलग अलग धर्मों एवं जातियों की भारत की 140 करोड़ की आबादी को एक देश की तरह जोड़ता है – लाल किशोर नाथ शाहदेव, वरिष्ठ कांग्रेस नेता
कांग्रेस ही संविधान की रक्षा कर सकती है,आदिवासियों को शिक्षा दे सकती है, और उनके जल जंगल और जमीन व अधिकारों की रक्षा कर सकती है – डॉ राजेश गुप्ता छोटू, वरिष्ठ कांग्रेस नेता


संविधान दिवस के मौके पर संविधान रक्षा संकल्प कार्यक्रम आयोजित कर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ नेता आलोक कुमार दूबे,लाल किशोर नाथ शाहदेव,डॉ राजेश गुप्ता छोटू, के नेतृत्व में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकर्ताओं ने आज डोरंडा स्थित बाबा साहेब अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया एवं दीप प्रज्वलित कर उन्हें नमन किया, तथा संविधान सभा के सभी सदस्य पंडित जवाहरलाल नेहरू, डॉ राजेंद्र प्रसाद, सरदार पटेल, मौलाना आजाद सरीखे नेताओं के द्वारा तैयार किए गए संविधान के लिए उन्हें नमन किया एवं कृतज्ञता प्रकट किया। कांग्रेस जनों को इस मौके पर कांग्रेस नेता लाल किशोर नाथ शाहदेव ने संविधान की प्रस्तावना का संकल्प दिलाया।

मौके पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता आलोक कुमार दूबे ने कहा संविधान ही है जो हमें एक आजाद देश का आजाद नागरिक की भावना का एहसास कराता है, जहां संविधान के दिए गए मौलिक अधिकार हमारी ढ़ाल बनकर हमें हमारा हक दिलाते हैं तो वहीं इसमें दिए गए मौलिक कर्तव्य हमें हमारी जिम्मेदारियों का भी एहसास कराते हैं।आज के दिन भोजन, वस्त्र,शिक्षा और स्वास्थ्य जैसी बुनियादी सुविधाओं से मरहूम अवाम एवं शोषण का शिकार हो रहे लोगों को आर्थिक एवं सामाजिक न्याय दिलाने का भी प्रण लेना चाहिए। आर्थिक असमानता की गहरी खाई कम होने से ही संविधान का उद्देश्य पूरा हो सकेगा।
वरिष्ठ कांग्रेस नेता लाल किशोर नाथ शाहदेव ने संविधान दिवस की देशवासियों को शुभकामनाएं दी एवं कहा यह संविधान ही है जो अलग-अलग धर्मों एवं जातियों की भारत की 140 करोड़ की आबादी को एक देश की तरह जोड़ता है।संविधान में ही देश के सिद्धांत और उसको चलाने के तौर तरीके शामिल हैं।आजादी के बाद जब हमारे पास अपना कोई संविधान नहीं था और संविधान के बगैर देश नहीं चलाया जा सकता था, ऐसे में संविधान सभा का गठन किया गया।संविधान की ड्राफ्टिंग समिति के अध्यक्ष डॉ भीमराव अंबेडकर के नेतृत्व में संविधान सभा के सदस्य देश के महान विभूति जवाहरलाल नेहरू, डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद,सरदार पटेल, श्यामा प्रसाद मुखर्जी, मौलाना आजाद सरीखे नेताओं के द्वारा 2 वर्ष 11 महीने 18 दिन में संविधान तैयार हुआ और आज के दिन संविधान सभा ने उसे स्वीकार किया। उन तमाम विभूतियों के प्रति आज नमन का दिन है
कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ नेता डॉ राजेश गुप्ता छोटू ने कहा
आरएसएस और भाजपा ने कभी भी भारत के संविधान और उसकी धर्मनिरपेक्ष भावना का समर्थन नहीं किया, धर्म के आधार पर लोगों को और देश को बांटने की कोशिशें लगातार करते रहे हैं।भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने स्पष्ट तौर पर कहा कि केवल कांग्रेस ही संविधान की रक्षा कर सकती है,आदिवासियों को शिक्षा दे सकती है और उनकी जल, जंगल और जमीन व अधिकारों की रक्षा कर सकती है। उन्होंने कहा देश का अच्छा और जिम्मेदार नागरिक बनने से न सिर्फ संविधान का मकसद पूरा होगा बल्कि संविधान निर्माताओं के सपनों के राष्ट्र का निर्माण होगा।
संविधान रक्षा संकल्प कार्यक्रम में रंजीत कुमार महतो, पप्पू सिंह, सुमित कुमार ,रीना साहू,लालजी प्रसाद, विजय तिर्की, धनंजय पासवान, केशव महतो, साजन अंसारी, प्रेमजीत तिर्की, अमन तिर्की, वीरेंद्र राम, सुषमा बधाई,मंजू देवी, सुमन देवी, किरण तिर्की, निशा देवी, सुमित्रा देवी, मीणा तिर्की, सावित्री तिर्की, बंधन टोप्पो,लखीचंद महतो,जतही तिर्की,बिपिन कुमार, सुकरू टोप्पो
मुख्य रूप से शामिल थे।

Leave a Response