Tuesday, June 18, 2024
Ranchi Jharkhand News

झारखंड में छठे चरण का मतदान शांतिपूर्ण संपन्न: के. रवि कुमार, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी

छठे चरण में मतदान का अनुमानित प्रतिशत 62.13 रहा

आदर्श आचार संहिता उल्लंघन के पांच मामले दर्ज

पारसनाथ, पीरटांड एवं झूमरा के क्षेत्रों में भी शांतिपूर्ण मतदान

रांची: मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के. रवि कुमार ने कहा है कि छठे चरण का चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न हो गया है। मतदानकर्मी इवीएम स्ट्रांग रूम में जमा करने के लिए मतदान केन्द्रों से वापस लौटने लगे हैं। उन्होंने कहा कि छठे चरण में 6-गिरिडीह, 7-धनबाद, 8-रांची एवं 9-जमशेदपुर संसदीय निर्वाचन क्षेत्र के लिए संपन्न मतदान का शाम 7 बजे तक मतदान का अनुमानित प्रतिशत 62.13 रहा। इसमें गिरिडीह लोकसभा संसदीय क्षेत्र में 65.44 प्रतिशत मतदान हुआ। वहीं धनबाद निर्वाचन क्षेत्र में 58.90, रांची में 58.73 एवं जमशेदपुर निर्वाचन क्षेत्र में अनुमानित मतदान प्रतिशत 66.79 रहा। उन्होंने कहा कि कुछ मतदान केन्द्रों पर मतदान प्रक्रिया जारी है। देर शाम तक मतदान प्रतिशत के आंकड़े को अपडेट किया जायेगा। पोस्टल बैलेट से हुए मतदान की संख्या जुड़ने के बाद मतदान प्रतिशत में कुछ और वृद्धि होगी। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, राज्य पुलिस नोडल पदाधिकारी एवी होमकर के साथ संयुक्त प्रेसवार्ता कर रहे थे।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि मतदान के दौरान आदर्श आचार संहिता उल्लंघन के 5 मामले दर्ज किए गये हैं। रांची संसदीय क्षेत्र से एक, जमशेदपुर से 2 एवं गिरिडीह संसदीय निर्वाचन क्षेत्र से दो मामले दर्ज किए गये हैं। उन्होंने बताया कि जमशेदपुर के बहरागोड़ा के गुड़बांधा में चुनाव ड्यूटी पर तैनात 38 वर्षीय जॉन मांझी की अचानक तबीयत बिगड़ गयी। उन्हें जमशेदपुर के टी॰एम॰एच में ले जाया गया। जहां उनका निधन हो गया। जॉन मांझी रिजर्व में तृतीय मतदान पदाधिकारी के रूप में मतदान केन्द्र पर कार्यरत थे।
उन्होंने कहा कि आदर्श आचार संहिता लगने से अबतक 12846.16 लाख की नगद धनराशि एवं सामग्री जब्त किये गये हैं।
राज्य पुलिस नोडल पदाधिकारी एवी होमकर ने कहा कि चारों संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों में छठे चरण का मतदान शांतिपूर्ण संपन्न हो गया। उन्होंने कहा कि छठे चरण के चारों लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों के 764 मतदान केन्द्र उन क्षेत्रों में अवस्थित थे, जहां पूर्व में नक्सली गतिविधियां रहीं थीं। इसमें गिरिडीह जिले का पीरटांड़ एवं पारसनाथ तथा बोकारो जिले के झूमरा के क्षेत्र शामिल थे। उन्होंने कहा कि शांतिपूर्ण मतदान के लिए 49,509 जवान लगाये गये थे। उन्होंने कहा कि 38 अंतर्राज्यीय चेक पोस्ट को सील कर सुरक्षा व्यवस्था दुरूस्त किया गया था। उन्होंने कहा कि मतदान कर्मियों को पूरी सुरक्षा के साथ वापस लाया जा रहा है।

Leave a Response