Monday, June 17, 2024
Jharkhand News

दूषित पानी के कारण पाकुड़ के ग्रामीण डायरिया के शिकार झारखंड राज्य सरकार की घोर लापरवाही: शानुल हक

इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग झारखंड प्रदेश के प्रदेश महासचिव शानुल हक ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा कि
झारखंड के पाकुड़ जिले के आमड़ा पाड़ाऔर लिट्टीपाड़ा प्रखंड में दूषित पानी पीने के कारण ग्रामीणों के बीमार होने की घटना काफी दुखद है। आईयूएमएल झारखंड प्रदेश कमिटी के निर्देश में पाकुड़ जिला कि टीम पाकुड़ जिला प्रभारी इमरान आलम के नेतृत्व में घटना स्थल पर पहुंच कर पीड़ित परिवार से मुलाकात कर हालत का जायजा लिया।
इस गंभीर समस्या ने राज्य सरकार की जल प्रबंधन नीतियों और स्वास्थ्य सेवाओं की खामियों को उजागर कर दिया है। घोर शर्म की बात यह है कि बीमारों का इलाज खुले आसमान के नीचे किया जा रहा है। हाल के दिनों में कई जिलों से पानी कि कमी के कारण दूषित पानी की वजह से लोगों के बीमार होने की खबरें सामने आई हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, दूषित पानी पीने से पीलिया, हैजा, और टाइफाइड जैसी बीमारियों के मामलों में उल्लेखनीय वृद्धि देखी गई है।
राज्य सरकार के जल आपूर्ति विभाग सुदूर क्षेत्रों में जल स्त्रोतों कि कमी और पानी की गुणवत्ता की निगरानी शोधन संयंत्रों की उपलब्धता और नियमित जांच में घोर लापरवाही बरती जा रही है जिसका खामयाजा ग्रामीण अपनी जान देकर चुका रहे हैं ।
हमारी पार्टी राज्य सरकार से मांग करती है कि जनता के स्वास्थ्य सुरक्षा और जल संकट जैसी समस्या का जल्द निवारण सुनिश्चित कर त्वरित और प्रभावी कदम उठाए साथ ही दूषित पानी के कारण बीमार पड़े लोगों के लिए उचित स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराए । महासचिव ने कहा कि
जनता की भलाई और स्वास्थ्य की रक्षा के लिए राज्य सरकार को जिम्मेदारी स्वीकार करते हुए, जल्द से जल्द इस समस्या का समाधान करना चाहिए। अगर राज्य सरकार इस दिशा में तुरंत कदम नहीं उठाती है तो हमारी पार्टी सरकार को कटघरे में लाकर खड़ा कर देगी।

मोहम्मद शहाबुद्दीन
प्रदेश उपाध्यक्ष सह प्रदेश प्रवक्ता इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग झारखंड प्रदेश।

Leave a Response