Sunday, July 21, 2024
Blog

अल्पसंख्यक समुदाय के अंतिम व्यक्ति तक योजना का लाभ पहुंचे: हिदयतिल्लाह खान

झारखण्ड राज्य अल्पसंख्यक आयोग की पश्चिम सिंहभूम जिला की समीक्षा बैठक संपन्न।

संवाददाता
चाईबासा। झारखण्ड राज्य अल्पसंख्यक आयोग की टीम अध्यक्ष हाजी हिदायतुल्लाह खान की अध्यक्षता में आज पश्चिम सिंहभूम जिला मुख्यालय चाईबासा पहुंची। आयोग की टीम में अध्यक्ष के अलावा आयोग के सदस्य क़ारी बरकत अली शामिल थे। चाईबासा परिसदन में चाईबासा जिला के सभी पदाधिकारी के साथ समीक्षा बैठक की गई।


सर्वप्रथम उपायुक्त एवं पुलिस अधीक्षक ने पुष्प गुच्छ भेंट कर आयोग के अध्यक्ष एवं सदस्य का स्वागत किया।बैठक में आयोग के अध्यक्ष हिदायतुल्लाह खान ने चाईबासा जिला के सभी विभागों मे चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं में अल्पसंख्यकों को उनके जनसंख्या के अनुपात में भागीदारी सुनिश्चित करने से संबंधित सभी विभागों को निर्देश दिया एवं पूर्ण रूप से अल्पसंख्यकों के लिए चलाई जा रही योजनाओं की भी समीक्षा की। बैठक में जिला के सभी विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।आयोग के द्वारा सभी विभागों में अल्पसंख्यक समुदाय के लिए चलाये जा रहे योजनाओं से संबंधित विस्तार पूर्वक जानकारी ली गई। ज्ञात हो कि झारखण्ड के समस्त 24 जिलों में आयोग की टीम द्वारा समीक्षा बैठक की जारही है। समीक्षा बैठक से पूर्व आयोग द्वारा अयोजित जनसुनवाई में बड़ी संख्या में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने अपनी समस्याएं रखीं, जिसके समाधान के लिए आयोग की टीम ने त्वरित कार्रवाई का आदेश संबंधित विभागों को दिया। आयोग के अध्यक्ष हिदायतुल्लाह खान ने कहा कि राज्य भर के सभी जिलों मे लगातार आयोग पहुँच रही है और इस तरह की समीक्षा की जारही है। उन्होंने चाईबासा जिला की समीक्षा रिपोर्ट की अद्यतन जानकारी ली।

Inbox

आयोग की पहल के उपरांत मदरसा इस्लामिया की कमेटी का 7 वर्षों बाद हुआ गठन

मदरसा इस्लामिया सेन टोला चाईबासा में 6 शिक्षकों के पद सृजित है जिसमें से 5 पद पिछले 7 वर्षों से रिक्त हैं। एक शिक्षक जो कार्यरत हैं उनको भी वेतन नहीं मिल रहा है।झारखण्ड राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष हिदयतुल्लाह खान ने जब जिला शिक्षा पदाधिकारी से इस बाबत पूछा तो उन्हों ने कहा कि मदरसा की लीज का नवीकरण नहीं किया गया है क्योंकि पिछले 7 वर्षों से मदरसा की कमेटी नहीं है।आयोग की मीटिंग के दौरान ही अयोग के अध्यक्ष श्री खान ने दूरभाष पर संपर्क कर स्थानीय लोगों से कमेटी गठन करने के बाबत पूछा, जिस पर वे तत्काल कमेटी गठन के लिए तैयार हो गए। जिला शिक्षा पदाधिकारी की मौजूदगी में चाईबासा अंजुमन इस्लामिया हॉल मे झारखण्ड राज्य अल्पसंख्यक आयोग की पहल पर कमेटी का सर्वसम्मति से गठन किया गया। मदरसा कमेटी नहीं रहने के कारण शिक्षक के पद पिछले साल वर्षों से रिक्त थे जब कि एक कार्यरत शिक्षक के वेतन का भुगतान भी नहीं हो रहा था, आज झारखण्ड राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष हिदयतुल्लाह खान की पहल के बाद 7 वर्षों से मदरसा इस्लामिया की कमेटी का गठन किया गया। अब कार्यरत शिक्षक को वेतन का भूगतान हो पाएगा और रिक्त 6 शिक्षकों की बहाली की जा सकेगी। आयोग के इस पहल से मुस्लिम समुदाय के लोगों ने अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष हाजी हिदायतुल्लाह खान का आभार प्रकट किया है।

Leave a Response