Tuesday, May 21, 2024
Jharkhand News

मत्स्यपालकों के लिए पांच दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ

रंगीन मछली पालन ,आरएएस व बायोफ्लॉक विधि से मत्स्यपालन की विधि से अवगत होंगे प्रशिक्षणार्थी

केज कल्चर विधि से मत्स्यपालन पर प्रशिक्षण 21से 26 सितंबर तक

रांची। मत्स्य निदेशालय की ओर से मत्स्यपालकों के लिए पांच दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ बुधवार को किया गया। मत्स्य किसान प्रशिक्षण केंद्र, शालीमार धुर्वा में मत्स्य प्रसार अनुसंधान व प्रशिक्षण योजना अंतर्गत रंगीन मछलीपालकों को 13से 17सितंबर तक प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस दौरान मत्स्यपालकों को आरएएस और बायोफ्लॉक की नई तकनीक से मछली पालन की विधि बताई जाएगी। विशेषज्ञ डॉ.अखलाकुर और डॉ. सुमन रचित द्वारा मत्स्यपालकों को बुधवार को प्रशिक्षण दिया गया। इस अवसर पर मत्स्य निदेशक डॉ. एचएन द्विवेदी, उप मत्स्य निदेशक (प्रशिक्षण) मरियम मुर्मू, उप मत्स्य निदेशक अमरेंद्र कुमार, मत्स्य प्रसार पदाधिकारी सीमा टोप्पो, स्वर्णलता मधु लकड़ा, सावन शीला हंस सहित अन्य उपस्थित थे।
मत्स्य निदेशालय से प्राप्त जानकारी के मुताबिक इसी महीने 21से 27सितंबर तक मत्स्यपालकों को केज कल्चर से मत्स्य पालन का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

Leave a Response