Friday, April 19, 2024
Ranchi News

शिक्षा ही स्वच्छ,स्वस्थ और सार्थक समाज के निर्माण में सहायक है : इबरार अहमद

 

माही का प्रयास साधनहीन बच्चों के लिए वरदान साबित होगा : ए०ए० खान

राँची:माही के अंतर्गत रविवार को मेन रोड स्थित मौलाना आजाद हॉल में प्रतिभावान छात्रों को सम्मानित करने हेतु “मक़सद” कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम मक़सद (मोटिवेशन, असिस्टेंस, क्वालिटी सपोर्ट फ़ॉर एकेडमिक डेवलोपमेन्ट) के तहत “ब्राइट माइंडस टैलेंट सर्च” अभियान चलाकर छात्र-छात्राओं का बेहतर शिक्षा के लिए किया गया। मक़सद का उद्देश्य चयनित छात्रों के शैक्षिक विकास में समर्थन प्रदान करना था। विशेष रूप से उन छात्रों को जो अल्पसंख्यक स्कूलों से आते हैं उनके शैक्षिक समर्पण में मोटिवेशन, सहायता और गुणवत्ता लाने के लिए इस कार्यक्रम में शहर के 15 अल्पसंख्यक स्कूलों के 150 छात्र-छात्राओं को  शिक्षा के प्रति प्रेरित करने के लिए सम्मानित किया गया। 

        कार्यक्रम की अध्यक्षता माही के संयोजक इबरार अहमद ने किया, जबकि राँची यूनिवर्सिटी के पूर्व वाईस चांसलर अनवार अहमद खान बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। विशिष्ट अतिथितियों में जे०एम०एम० जिला के अध्यक्ष मुशताक अहमद,जुनैद अनवर,हसीब अख़्तर जावेद,डॉक्टर असलम परवेज़, जय सिंह यादव, मोहम्मद रिज़वान, प्रोफेसर अनीसुर रहमान, इरफ़ान उज़ैर, साइसोन इंटरनेशनल ग्रुप के सरफराज अहमद, तंज़ीम आलम, सिराजुद्दीन,सूबेदार मेजर मोहम्मद रफ़ी आदि शामिल थे। मंच का संचालन कानून का छात्र क़ौसेन रज़ा ने किया।

          इस ऐतिहासिक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राँची यूनिवर्सिटी के पूर्व वाईस चांसेलर ए०के० खान ने कहा कि माही का यह प्रयास निश्चित तौर पर रंग लायेगा और साधनहीन बच्चों के लिए वरदान साबित होगा। ऐसे कार्यक्रम से छात्र-छात्राओं में उत्साहवर्द्धन होता है और अपने स्वर्णिम कैरियर के प्रति प्रेरित होते हैं। माही ने छात्र-छात्राओं का हौसला बढ़ाने और अपना सहयोग देकर समाज का मार्गदर्शन किया है।
         माही के संयोजक इबरार अहमद ने कहा कि हम सभी लोगों का दायित्व बनता है कि प्रतिभाशाली बच्चों का न केवल हम रहनुमाई करें बल्कि उन्हें लक्ष्यों तक पहुँचने में सहभागी बने। शिक्षा ही स्वच्छ,स्वस्थ और सार्थक समाज के निर्माण में सहायक है। उन्होंने कहा कि शिक्षा एक ऐसा शक्तिशाली हथियार है जो गरीबी और असमर्थता को परास्त करने निर्णायक है। शिक्षा उन छात्रों को लक्ष्य तक पहुँचने में सहायता प्रदान कर सकता है जो हाशिये पर खड़े हैं।

            सामाजिक कार्यकर्ता जय सिंह यादव ने कहा कि, माही समाज के प्रति एक बेहद जागरूक और सजग प्रहरी के रूप में कार्य कर रहा है और समाज के वंचित बच्चों के लिए एक आशा की किरण है। जय सिंह यादव ने माही के प्रयासों को समाज मे परिवर्तन लाने के प्रयास की सराहना की।
          के०बी० एकेडेमी के डायरेक्टर डॉक्टर असलम परवेज़ ने शिक्षा में अलख जगाने की आवश्यकता पर विशेष बल देते हुए कहा इन बच्चों का भविष्य संवारने हेतु सभी को आगे आना चाहिए।
        संत मार्ग्रेट गर्ल्स हाई स्कूल के सहायक शिक्षक विकास तिवारी ने बताया कि शिक्षा न केवल ज्ञान की प्राप्ति का साधन है, बल्कि यह छात्रों के व्यक्तिगत और सामाजिक विकास में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

        इसके पूर्व प्रवीण पीटर ने हम होंगे कामयाब गाकर सभा को भावविभोर कर दिया। मिल्लत एकेडेमी की छात्रा फरहीन नौशीन ने अल्लामा इक़बाल की नज़्म को अपनी आवाज़ देकर लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया और छात्राओं की एक समूह ने “सारे जहाँ से अच्छा” गाकर लोगों को भावनात्मक कर दिया। 
        माही ने अपने उन सामाजिक कार्यकर्ताओं को भी याद किया जो अब इस दुनिया में नहीं रहे, विशेषकर शिक्षा को समर्पित ख़लील अहमद, स्वास्थ्य सेवा पर समर्पित ज़फर कमाल, सामाजिक कार्यकर्ता ऐहसान अंसारी,हाजी सरवर और सामाजिक सौहार्द के अग्रेता रहे अब्दुस सलाम को श्रद्धांजलि अर्पित किया।
          इस कार्यक्रम में सैकड़ों छात्र-छात्राओं के एलावा संत पॉल स्कूल के गणित के शिक्षक मृत्युंजय प्रसाद, रेड क्रेसेंट पब्लिक स्कूल के निदेशक अब्दुल अज़ीज़, राईन उर्दू गर्ल्स हाई स्कूल की प्रिंसिपल फरहीन नाज़, क़ुरैशी एकेडमी की प्रिंसिपल इंचार्ज सैमुन निशा,पैरामाउंट स्कूल की सलमा अंसारुल्लाह, मिल्लत एकेडमी के निदेशक अशरफ हुसैन, इदरीसिया तंज़ीम स्कूल से प्रिंसिपल के रियाज़ अहमद खान, ड्रीमलैंड पब्लिक स्कूल की नाज़िया तबस्सुम, एंजेल्स वर्ल्ड स्कूल की प्रिंसिपल शमा आलम,इराकिया उर्दू गर्ल्स की प्रिंसिपल दरख्शा परवीन आदि ने शिरक़त की।

          कार्यक्रम को सफल बनाने में शकील अहमद,मोहम्मद सलाहुद्दीन, सरवर इमाम, नदीम अख़्तर,हाजी नवाब,हिंदपीढ़ी थाना प्रभारी विनय कुमार सिंह,अर्शद क़ुरैशी, मोहम्मद सोहैल, ख़ालिद सैफुल्लाह,सैफुल हक़, कामरान अहमद, मोहम्मद इक़बाल, मोहम्मद नज़ीब,साझा मंच के अमोल पांडेय,सैय्यद अंसारुल्लाह, सज्जाद इदरीसी, नसीम क़ुरैशी, एम०जेड० खान, मोहम्मद वसीम,शोऐब रहमानी, गयासुद्दीन मुन्ना, नूर आलम, अख्तर गद्दी, हैदर गद्दी, मोइनुद्दीन, इम्तियाज़ अहमद,अर्शद शमीम, नैयर परवेज़, अब्दुल्लाह कैफ़ी, इबरार हसन, मेराज हसन, मोख्तार गद्दी, रिज़वान अंसारी,जावेद मल्लिक,मैडम अल्विया,कामरान अहमद, इरफान उज़ैर, सिराजुद्दीन, हाजी सादिक़, मोहम्मद मनीर, फ़िरोज़ अंसारी, मोहम्मद वसीम, प्रोफेसर अय्यूब आदि लोग उपस्थित थे।
        धन्यवाद ज्ञापन सरफ़राज़ अहमद सुड्डू ने किया। यह जानकारी माही के प्रवक्ता मुस्तक़ीम आलम ने दी।

Leave a Response