Ranchi Jharkhand

अंजुमन इस्लामिया के सदर मुख्तार अहमद अंजुमन काे हिसाब देने से भाग रहे हैं : डॉक्टर तारिक हुसैन

रांची: अंजुमन इस्लामिया रांची के अध्यक्ष मुख्तार अहमद अंसारी ने पैसाें का हेरा-फेरी किया है। वो अंजुमन काे हिसाब देने से भाग रहे हैं। उनके पहले के कार्यकाल का अबतक हिसाब नहीं दिया। 12 साल में कई घोटोले हुए। जब कमेटी ने इसकी जानकरी लेनी चाही, तो मामला को दूसरे तरफ उलझा दिए। ये बातें शुक्रवार को आयोजित अंजुमन इस्लामिया के मुसाफिर खाना में अंजुमन इस्लामिया कमेटी की बैठक में महासचिव तारिक हुसैन ने पत्रकारों से कहीं। उन्होंने कहा कि अध्यक्ष अबतक अकाउंट को बंद नहीं कर पा रहे। 6.58 लाख रुपए का अबतक हिसाब नहीं दिया। साथ ही कब्रिस्तान, कॉलेज, स्कूल के एकाउंट का हिसाब भी नहीं दे रहे हैं। तारिक हुसैन ने कहा कि अध्यक्ष अपने करीबी लोगों को लोन बांट रहे हैं। अध्यक्ष का काम सिर्फ दूसरों पर इल्ज़ाम लगाने का रह गया है। कमेटी ने पत्र लिखकर पैसा का कई बार हिसाब मांगा, लेकिन वो अबतक नहीं दे पाए। महासचिव डॉक्टर तारिक हुसैन ने कहा कि अंजुमन के अध्यक्ष मुख्तार से मीटिंग में पैसे का हिसाब मांगा जाता है। वो लगातार कई मीटिंग में शामिल नहीं हुए। तारिक ने कहा कि पैसा खर्च कर कच्चा बिल जमा करते हैं, जो नियम विरुद्ध है। कमेटी को सिर्फ बदनाम कर अंजुमन के डेवलपमेंट के काम को रोक देना ही अंजुमन के अध्यक्ष का काम है। आवाम व कमेटी के सामने उनको पाई पाई का हिसाब देना होगा। प्रेस वार्ता में मजलिसे आमला के अयूब राजा खान, मोहम्मद नजीब, नकीब ,वसीम अकरम , नदीम अख़्तर,जावेद अख्तर और शाहीन अहमद भी मौजूद थे।

Leave a Response