Palamu News

इस्लामिक स्कॉलर मौलाना सैयद मौसवी रज़ा का मदीना मानव्वारा में निकाह

दावत वलीमा में शहर के शैक्षणिक, सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक, प्रशासनिक, पत्रकार, एवं अन्य संगठनों से जुड़ी प्रमुख लोग‌ शामिल हुए

रांची () आज के फैशन के दौर में जहां हर कोई फैशन के पीछे भागता नजर आ रहा है। शादी के लिए लड़के की अलग डिमांड होती है और लड़की की अलग। ये फैशन, ये मांग समाज को बर्बाद कर रही है। लेकिन हम सभी जानते हैं कि यह दुनिया अच्छे और नेक लोगों की वजह से चल रही है। कहा जाता है कि शादियां ऊपर तय हो जाती हैं। लेकिन बहुत कम लोग ही सुन्नत तरीके से शादी करते हैं। कहने और करने में बहुत अंतर है।

आज हम बात कर रहे हैं झारखंड के प्रसिद्ध इस्लामिक स्कॉलर विद्वान एवं ऑल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड झारखंड के महासचिव एवं दर्जनों संस्थाओं के संरक्षक, अध्यक्ष मेरे मोहसिन हजरत मौलाना सैयद मौसवी रजा किबला जपला हुसैनाबाद की। जिन्होंने अपनी शादी सुन्नत के अनुसार की। मौलाना की शादी उस पवित्र धरती पर हुई, जिसके दर्शन(जियारत) के लिए हर मुस्लिम पुरुष, महिला, युवा और वृद्ध लालायित रहते हैं। मदीना के जाने-माने शिया धार्मिक विद्वान अयातुल्लाह शेख ताहिर ने मदीना में मौलाना सैयद मौसवी रजा का निकाह पढ़ाया। मौलाना सैयद मौसवी रज़ा की शादी सवर्गिय सैयद शाहिद रज़ा की बेटी सैयदा फातिमा ज़हरा रज़ा से हुई। वलीमा करना सुन्नत है।

इसी सुन्नत पर अमल करते हुए जपला हुसैनाबाद में वलीमा बड़ी धूमधाम से की गई। लड़के के भाई सैयद मासूम रजा, सैयद मेहदी रजा ने कहा कि बेटी घर की शान होती है। बेटा-बेटी में फर्क न करें। बेटी को तालीम से लैस करो, यही हमारे नबी की सुन्नत है। हजरत मौलाना सैयद मौसवी रज़ा किबला और सैयदा फातिमा ज़हरा रज़ा की शादी में कई गणमान्य लोग शामिल हुए और नवविवाहितों को उपहारों और दुआओं से नवाज़ा। दावत वलीमा मौलाना सैयद मुसावी रजा के दौलत कदह में आयोजित किया गया। जिसमें शहर के शैक्षिनक, सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक, पत्रकारिता और अन्य संगठनों से जुड़ी प्रमुख गणमान्य लोगों ने भाग लिया। जिनका स्वागत मौलाना सैयद मुसावी रजा, सैयद मासूम रजा, सैयद मेहदी रज़ा ने किया।

वलीमा समारोह में शामिल होने वालों में झारखंड राज्य हज समिति के सदस्य और ऑल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड झारखंड के अध्यक्ष, सह मस्जिद जाफरिया के इमाम व खतीब हजरत मौलाना सैयद तहजीबुल हसन रिजवी, रांची के पत्रकार आदिल रशीद, कश्मीर के मौलाना सैयद अकबर तुराबी, गुजरात के प्रसिद्ध सामाजिक कार्यकर्ता सिराज भाई और अकील भाई, बहुजन समाज पार्टी के युवा नेता भाई शेर अली, विनोद सागर, प्रशाद अग्रवाल, शाकिर अली, कांग्रेस नेता सैयद हसनैन जैदी, सैयद मोहम्मद हुसैन, इजाज हुसैन,

थाना प्रभारी जग्रनाथ धान, इंस्पेक्टर दीपक कुमार, एसआई सोम प्रकाश, एसआई धर्मेंद्र कुमार, एसआई विनोद कुमार, एसआई वीर बहादुर सिंह, एसआई चंद्रदीप कुमार, एसआई शौकत खान, एसआई रवि रंजन कुमार, नगर पंचायत अध्यक्ष शाही कुमारी, नगर पंचायत उपाध्यक्ष गयासुद्दीन सिद्दीकी, मास्टर शमशाद हुसैन, बाकिर हुसैन, अली हसन, अमित अग्रवाल, सरवर हुसैन, अफजल हुसैन, हाशिम रजा, रांची से नदीम रजा समेत सैकड़ों लोग शामिल हुए। आए हुए सभी अतिथियों का स्वागत मौलाना सैयद मौसवी रजा ने किया।

Leave a Response