Jharkhand News

एचईसी की बदहाली के लिए भाजपानीत केंद्र सरकार जिम्मेवार : सुबोधकांत सहाय

 

 विशेष संवाददाता 
रांची। पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय ने कहा है कि एशिया प्रसिद्ध कारखाना एचईसी की बदहाली के लिए केंद्र की भाजपा सरकार जिम्मेवार है।  भाजपा की जन विरोधी नीतियों के कारण एचईसी बंदी के कगार पर आ गया है। केंद्र की मोदी सरकार द्वारा देश के सार्वजनिक उपक्रमों को एक-एक कर निजी क्षेत्र के चहेते पूंजीपतियों को बेचा जा रहा है। 
 श्री सहाय मंगलवार को एचईसी परिसर स्थित अपने आवासीय कार्यालय पर एचईसी श्रमिक संघ यूनियन के प्रतिनिधियों से वार्ता के बाद मीडिया को संबोधित कर रहे थे।
श्री सहाय ने कहा की एचईसी को बचाने के लिए वह सतत प्रयासरत रहे हैं। किसी भी हालत में एचईसी कारखाना को बंद नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि एचईसी क्षेत्र उनकी कर्मभूमि रही है। इसी क्षेत्र से उन्होंने राजनीतिक सफर की शुरुआत की है। एचईसी के अस्तित्व को बचाए रखने के लिए उनका उल्लेखनीय योगदान रहा है। 
 उन्होंने कहा कि रांची के वर्तमान सांसद संजय सेठ भी एचईसी के इस हालात के लिए जिम्मेदार हैं। श्री सेठ ने कभी भी संसद में एचईसी के मुद्दे को नहीं उठाया।
श्री सहाय ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में  देश की जनता भाजपा को सत्ता से बेदखल कर देगी। कांग्रेस पार्टी की सरकार बनते ही एचईसी के पुनरुद्धार की दिशा में ठोस पहल की जाएगी। 
 मातृ उद्योग के रूप में स्थापित एचईसी को किसी भी हाल में बंद होने नहीं दिया जाएगा। केंद्र की मोदी सरकार एचईसी को बंद करने की साजिश रच रही है, इसे सफल नहीं होने देंगे।
उन्होंने केंद्र सरकार से अविलंब एचईसी कर्मियों के बकाया वेतन भुगतान की दिशा में आवश्यक कदम उठाने की मांग की।
 एचईसी श्रमिक संघ यूनियन के प्रतिनिधिमंडल को उन्होंने आश्वस्त करते हुए कहा कि इस दिशा में कांग्रेस पार्टी जल्द ही आंदोलन की रणनीति बनाएगी।
 श्री सहाय से मिलने वालों में एचईसी श्रमिक संघ यूनियन के सन्नी सिंह, एसजे मुखर्जी, प्रेम सागर साहू, योगेंद्र सिंह, अतुल सिंह, रविंद्र कुमार, मृत्युंजय कुमार, रवि, के महतो, रविंद्र कुमार, पंकज कुमार सहित अन्य शामिल थे।

Leave a Response