Tuesday, May 28, 2024
Blog

अमीर ए शरीयत ने पढ़ाई पत्रकार आदिल रशीद का निकाह

दावत वलीमा में शहर की शैक्षणिक, सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक, पत्रकारिता एवं अन्य संगठनों से जुड़े गणमान्य शामिल हुए

रांची: आज के फैशन के दौर में जहां हर कोई फैशन के पीछे भागता नजर आ रहा है। शादी के लिए लड़के की अलग डिमांड होती है और लड़की की अलग। ये फैशन, ये मांग समाज को बर्बाद कर रही है। लेकिन हम सभी जानते हैं कि यह दुनिया अच्छे और नेक लोगों की वजह से चल रही है। कहा जाता है कि शादियां ऊपर तय हो जाती हैं। लेकिन बहुत कम लोग ही सुन्नत तरीके से शादी करते हैं। कहने और करने में बहुत अंतर है। आज हम बात कर रहे हैं झारखंड की राजधानी रांची के चानहो चटवल के प्रसिद्ध युवा मुफ्ती रहमतुल्लाह और युवा पत्रकार आदिल रशीद की। जिन्होंने अपनी शादी सुन्नत के अनुसार की। आदिल रशीद की शादी चान्हो में हुई। तो मुफ्ती रहमतुल्लाह की शादी कर्बला चौक गुलशन मैरेज हॉल में हुई। आदिल रशीद का निकाह अमीर ए शरीयत झारखंड हजरत मुफ्ती नज़र तौहीद ने पढ़ाई।

उन्होंने कहा की शिक्षा का ही परिणाम है की आज देन मेहर जियारत मक्का मदीना( उमरा) रखा है। मेरी दुआ है की आदिल बाबू खूब तरक्की करे। तो वहीं मुफ्ती रहमतुल्लाह का निकाह शहर काज़ी मुफ्ती कमर आलम कासमी ने पढ़ाई। पत्रकार आदिल रशीद की शादी जनाब मो खलील की बेटी माजदा परवीन से हुई। तो मुफ्ती रहमतुल्लाह की शादी यूनानी डॉक्टर एच रशीद आजाद की बेटी शगूफा परवीन से हुई। वलीमा करना सुन्नत है। इसी सुन्नत पर अमल करते हुए आदिल रशीद ने रांची के कर्बला चौक स्तिथ जमीयतुल इराकीन बिल्डिंग गुलशन मैरेज हॉल में वलीमा बड़ी धूमधाम से की। लड़के के पिता डॉक्टर एच रशीद आजाद ने कहा कि बेटी घर की शान होती है। बेटा-बेटी में कोई फर्क न हो। बेटी को तालीम से लैस करो, यही हमारे नबी की सुन्नत है।

पत्रकार आदिल रशीद और माजदा परवीन की शादी में कई गणमान्य लोग शामिल हुए और नवविवाहितों को उपहारों और दुआओं से नवाजा। दावत वलीमा में शहर के शैक्षिनक, सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक, पत्रकारिता और अन्य संगठनों से जुड़ी प्रमुख गणमान्य लोगों ने भाग लिया। जिनका स्वागत एच रशीद आजाद, आसिफ पाशा, अबु आमिर, शाहनवाज आलम, नौशाद, शाहिद, रेहान अख्तर, रिजवान अहमद ने किया।

वलीमा समारोह में जिन प्रमुख हस्तियों ने हिस्सा लिया और नवविवाहितों को उपहारों और दुआओं से नवाजा उनमें झारखंड राज्य हज समिति के पूर्व सदस्य हजरत मौलाना सैयद तहजीबुल हसन रिजवी, इस्लामिक स्कॉलर मौलाना सैयद मुस्वी रज़ा, हॉपवेल हॉस्पिटल के निदेशक डॉक्टर शाहबाज आलम, डॉक्टर नेहा अली, शाह रेसीडेंसी के निदेशक शाह उमैर, शहर के प्रसिद्ध जनरल फिजिशियन डॉक्टर एम हसनैन, एमके एडवांस डेंटल हॉस्पिटल के निदेशक डॉक्टर सिबगतुल्लाह, प्रख्यात समाजसेवी समी आज़ाद, सेन्ट्रल मुहर्रम कमिटी के महासचिव अकील उर रहमान, जमीयतुल इराकिन रांची के सचिव सैफुल हक़, प्रसिद्ध समाजसेवी अरशद कमाल गुड्डू, चतरा के प्रसिद्ध जेनरल फिजिशियन डॉक्टर हमजा, मौलवी सईद, हाजी हलीम, अब्दुल मन्नान, झामुमो नेता फरीद खान, साजिद उमर,

नदीम खान, मुफ्ती आरिफ, आजसू नेता आदिल अजीम, खबर एक्सप्रेस निदेशक सैयद जसीम रिजवी, शारिब खान, एस एम खुर्शीद, मरहबा ह्यूमन सोसाइटी के संरक्षक डॉक्टर असलम परवेज, केयर किलणिक बनईगढ़ के निदेशक डॉक्टर हसनैन, शोएब खान, कांग्रेस नेता तनवीर खान, मुफ्ती स्नाउल्लाह, मो एजाज, मो अख्तर, मो मुमताज, मो अताउल्लाह, मो परवेज, सोनू, सनाउल्लाह, मो शाहबाज, अंजुमन इस्लामिया चटवल के काज़ी मौलाना रफीक, भोलू, मो फुरकान, डॉक्टर तलहा, फारूकी तंजीम के संचालक हाफिज अबु बकर, कांग्रेस प्रवक्ता खुर्शीद हसन रूमी, कौमी इत्तेहाद मोर्चा के सैयद खुर्शीद अख़्तर समेत सैंकड़ों लोग शामिल हुए।

Leave a Response