Monday, June 17, 2024
Ranchi Jharkhand

ट्रेनिंग कैम्प में पहुंचे उमरा यात्रियों को समझाई उमरा की बारीकियां

रांची/डुमरी: अलग-अलग इलाक़ों से आए महिला,पुरुष हज उमरा यात्रियों को हज उमरा की महत्वपूर्ण जानकारी दी गयी। सैकड़ों हज उमरा यात्रियों को हज के सफर के लिए रहनुमाई की गई। डुमरी प्रखंड कुलीयत्स शालीहात नावाटांड में गिरिडीह जिला से जाने वाले हाजियों के लिए हज तरबियत कैम्प का आयोजन किया गया। मदीना ट्रेवल्स के बेनर तले ये हज तरबियत कैम्प में बड़ी तादाद में हजयात्री शामिल हुए। मदीना ट्रेवल्स के अध्यक्ष मौलाना इलियास मजाहिरी ने जानकारी देते हुए बताया कि हज तरबियत कैम्प में मौलाना सगीर, अध्यक्ष गिरिडीह जमीयत उलेमा के अध्यक्ष मौलाना अकरम, गिरिडीह जमीयत उलेमा के सीक्रेट मौलाना रुस्तम काशमी,मौलाना मुबीन साहब ने हज से जुड़ी जानकारी व प्रशिक्षण दिया और हज के अपने तजुर्बों को साझा किया।

हज यात्रियों की रहनुमाई कुरआन व हदीस की रोशनी में की गयी। हज व‌ उमराह के दौरान किए जाने वाले हज के अरकान जैसे तवाफ करना, सफा एवं मरवाह के चक्कर लगाना, शैतान को कंकरी मारना, एहराम बांधना आदि का प्रैक्टिकल करके बारीकी से समझाया। हज के दौरान पढ़ी जाने वाली नमाज़ और दुआएं भी सिखाई गई। तरबियत कैम्प का संचालन कुलीयत्स शालीहात नावाटांड के मोहतमिम मौलाना जोहर ने किया। वहीं शायरों शायरी के जरिए मकका और मदीना का महत्व बताया। तरबियत कैम्प में प्रमुख रूप से ग्रामीणों तथा उलेमाओं ने मदीना ट्रेवल्स झारखंड के अध्यक्ष इलियास मजाहिरी तथा मोलाना जोहर के प्रति शुक्रिया अदा किया।

Leave a Response