Ranchi News

श्री रामकृष्ण सेवा संघ द्वारा छात्राओं और ग्रामीणों के बीच गर्म वस्त्र वितरित, मानवता की सेवा सबसे बड़ा धर्म : तुषार कांति शीट

पीड़ितों की सेवा से होती है सुखद अनुभूति : सुकृत भट्टाचार्य

रांची/बन्दगांव (प.सिंहभूम)।
श्री रामकृष्ण सेवा संघ के सौजन्य से पश्चिम सिंहभूम जिलांतर्गत बन्दगांव प्रखंड के लुंबई गांव में भारत सरकार के कल्याण विभाग के सहयोग से भारतीय आदिम जाति सेवक संघ की रांची शाखा द्वारा संचालित कन्या आश्रम में अनुसूचित जनजाति छात्रावास की 90 छात्राओं के बीच गर्म वस्त्र (स्वेटर) और पठन-पाठन सामग्री वितरित किए गए।
इसके अतिरिक्त आसपास के ग्रामीणों के बीच कंबल का वितरण भी किया गया।
मौके पर श्री रामकृष्ण सेवा संघ के अध्यक्ष सुकृत भट्टाचार्य ने कहा कि गरीबों और पीड़ितों की सेवा से सुखद अनुभूति होती है।
वहीं, संघ के सहायक सचिव तुषार कांति शीट ने कहा कि पीड़ित मानवता की सेवा सबसे बड़ा मानव धर्म है। गरीबों और पीड़ितों की सेवा के प्रति उन्होंने अन्य सामाजिक संगठनों और समाजसेवियों से आगे बढ़कर सहभागिता निभाने की अपील की।


इस अवसर पर छात्राओं के बीच पर्यावरण संरक्षण, जल संरक्षण, पेंड़ लगाने, प्लास्टिक का इस्तेमाल नहीं करने आदि संबंधी संदेश भी छात्राओं को दिए गए।
मौके पर कन्या आश्रम, लुंबई की वार्डन सह प्राचार्य बेला मुंडरी, लोहार सिंह मुंडा, चटन सिंह मुंडरी, श्री रामकृष्ण सेवा संघ के कोषाध्यक्ष तन्मय मुखर्जी, समाजसेवी आलोक सिन्हा, विवेक राय, मन्तोष मजुमदार, शैवाल बनर्जी, अरुण सिन्हा, जेआर काली, आलोक मजुमदार, आनंद घोष, किया मुखर्जी, तनुजा भट्टाचार्य, अजन्ता काली, तप्ती बनर्जी, रीता सिन्हा, सपना दत्त, श्रावन्ती शीट, छंदा घोष, बुला दत्ता, अर्चना चक्रवर्ती, सोहिनी मजुमदार सहित अन्य मौजूद थे।

Leave a Response