Ranchi News

मदरसा इस्लामिया महमूदिया, मुडमा मंडार, रांची के एक छात्र को एक ही बैठक में कुरान पाक सुनाया

दिनांक 13 फरवरी 2024, मंगलवार को मदरसा इस्लामिया महमौदिया के एक छात्र हाफ़िज़ अनस यासिर बिन श्री हाफ़िज़ अख्तर साहब मक़ाम सुंदरू लोहरदगा: रात 12:41 मिनट से दिन 12:30 तक उनके शिक्षक मौलाना वकारी मुहम्मद ताहा. मसूद अल-मोज़ाहिरी और मौलाना जावेद अल-मोज़ाहिरी।के सामने एक बार में पूरी कुरान पढ़कर एक रिकॉर्ड बनाया।

यह मदरसा इस्लामिया महमूदिया की बहुत बड़ी कामयाबी है कि मदरसे ऐसा हुनहार हाफिज पैदा किया है।

खास तौर पर मदरसे के संचालक मौलाना डॉ. अब्दुल जलील साहब कासमी नदवी ने इस मदरसे के शिक्षको को वेतन की चिंता से मुक्त कर दिया है, यही वजह है कि इस मदरसे के शिक्षक अपना कीमती समय सिर्फ पढ़ाई-लिखाई में ही बिताते हैं .इस क्षेत्र को एक बड़ा लाभ होगा कि सक्षम गार्ड इस क्षेत्र की सेवा करेंगे।
आज का ये दौर तालिमी इन्हितात का दौर है । जिस की कई उजूहात है जिन में से एक वजह छात्र के दरमियान तालिमी मुकाबला के जज्बा का फुकदान भी है ।
मदरसा इस्लामिया के शिक्षक उसका मुशाहिदा भी कर रहे हैं ।
और इन कमियों को दुर करने की कोशिश भी कर रहे हैं। इस से पहले भी बहुत से छात्र छात्राओं ने एक बैठक में कुरआन पाक सुना ने का शरफ हासिल किया है।
अभी मदरसे में गोर किया गया के जब मदरसा में छात्र के दरमियान ये एलान किया गया के हाफिज अनस यासीर ने एक बैठक में मुकमल कुरआन पाक सुनाएगा तो छात्र के दरमियान तकाबुली जज्बा एक दम से परवान चढ़ गया और सभी हाफिज छात्र ने मेहनत के मेयर को बुलंद कर लिया जो के एक खुश आईं कदम है । डाक्टर मौलाना अब्दुल जलील कासमी नदवी ने
शिक्षकोण की हौसला अफजाई को मद्दे नजर रखते हुवे शिक्षक और छात्र को 1000 एक ,एक हजार रूप और एक एक जोड़ी कपड़ा दिया।

हालांकि, इस कुरान और नूरानी बैठक में मौलाना अतीकुर रहमान कासमी, मौलाना , मौलाना अली हुसैन साहब, नदवी हाफिज शफीक मसूदी ने बधाई दी और रोशन मुस्तकबिल के लिए दुआ दी । मौलाना अतीकुर रहमान कासमी द्वारा लिखित।

Leave a Response