Tuesday, June 18, 2024
Jharkhand News

मुसलमानो ने ठाना है हिंदू बेटी को जिताना हैं: आज़म अहमद

झारखंड आंदोलनकारी आजम अहमद रांची संसदीय चुनाव को गंभीरता से लेते हुए 2024 में भाजपा को रोकने के लिए रांची जिला ग्रामीण क्षेत्र से लेकर 53 वार्डों में लगातार जनसंपर्क अभियान चलाते हुए लोगों से अपील की कि भाजपा की सरकार 10 सालों में देश को झूठे आश्वासन और मीठे जुमले से देश के 140 करोड़ हिंदू मुसलमान सिख इसाई को आपसी सौहार्द खत्म करने के सिवा कुछ नहीं किया इसलिए 140 करोड़ भारत की जनता को यह बताना है कि भारत के 80 करोड़ लोगों को 5 किलो अनाज देकर अपाहिज बनाते हुए बोरा भरकर वोट लेने की कोशिश को हमें नाकामयाब करना होगा।

भारत में भारतीय जनता पार्टी की सरकार 2014 में आई थी उसे भारत में 55 हजार करोड़ की कर्ज से डूबा सरकार मिला लेकिन आज 2024 में भारत के लोग 205 लाख करोड़ के कर्ज में डूब चुके हैं इस कर्ज से मुक्ति दिलाने के लिए वर्ल्ड बैंक फिर एक बार कर्ज लेने के लिए तैयार है ताकि भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने जो कर्ज लिया था उसको खत्म कर सके यह भारत के लिए बहुत सोचनीय और गर्क में ले जाने वाली सरकार को रोकना होगा ।

आजम अहमद ने आगे कहा भारतीय जनता पार्टी 2014 से लेकर 19 तक अपने घोषणा पत्र के अनुसार बने घोषणा पत्र योजना में मेक इन इंडिया फेल , प्रधानमंत्री रोजगार योजना फेल , आत्मनिर्भर योजना फेल ,कौशल विकास योजना फेल, स्टार्टअप योजना फेल, स्मार्ट सिटी योजना फेल, प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना फेल हर गरीब को अपना घर फेल किसान ,की इनकम दुगनी फेल ,करीब एक दर्जन रोजगार योजना सब फेल, सालाना 2 करोड़ नौकरी फेल

गरीबों के बैंक खाते पर 15 लाख आना फेल ,आयुष्मान कार्ड द्वारा 5 लाख मुफ्त इलाज फेल, भारत के लोगों को हिंदू मुसलमान सिख इसाई भाई को अब यह सोचना होगा की इन 10 सालों में अपने बच्चों को अच्छा एजुकेशन जैसे डॉक्टर इंजीनियर आईएएस आईपीएस जीपीएससी यूपीएससी बीपीएससी और भी तरह के एजुकेशन हब पर बच्चों को अच्छा तालिम देने के लिए अपनी गड़ी कमाई जैसे मकान जमीन जेवर बेचकर भी शिक्षा देने में कोई कसर नहीं छोड़ा लेकिन आज रोजगार के नाम पर देश के मुसलमान हिंदू सनातन सिख इसाई धर्म के नौजवान आज अपराध की दुनिया में जाने के लिए तैयार है शिक्षा पाने के बाद भी रोजगार उनसे दूर है भारत के हिंदू सनातन भाई ऐसी सरकार को लाना चाहती है तो फिर यही सामना आगे भी करने के लिए मजबूर रहना होगा ।

हमने देखा है काला धन के नाम पर जो 2000 का नोट भारत की सरकार ने छपाई थी उसे 5 साल भी चला नहीं पाई हमें कैसे विश्वास होगा की 2024 में उनके हाथों में सरकार देने के बाद हमारे देश के हिंदू सनातन नौजवान का भविष्य उज्जवल होगा । झारखंड आंदोलनकारी आजम अहमद ने आगे कहा इस भाग दौड़ की जिंदगी में हम लोग इतने मतलबी हो गए हैं की सालों साल से 24 घंटा काम करने वाले हमारे देश के प्रधानमंत्री वर्ल्ड के सबसे अच्छे नेता भारत के लोह पुरुष को हम तमाम भारत के साथ-साथ झारखंड के मुसलमान सभी मिलकर 2024 में आराम करने के लिए मौका देंगे । आजम अहमद ने आगे कहा की रांची संसदीय चुनाव लड़ने वाली यशस्विनी सहाय को जो कल की दुर्गा सीता काली मां सरस्वती मां आज की बेटी को रांची संसदीय चुनाव में भारी मतों से जिताएंगे । जिस तरीके से उनके पापा सुबोध कांत सहाय को हम तमाम हिंदू मुसलमान सिख इसाई एक नोट और एक वोट देकर भारत के गृह मंत्री बनाया था भगवान करे की बेटी भी अपने पापा की तरह देश दुनिया में नाम कमाए
भावदीय
इसराइल खालिद
झारखंड आंदोलनकारी

Leave a Response