Ranchi Jharkhand

इक्फाई विश्वविद्यालय का चौथा दीक्षांत समारोह आज

  • राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन होंगे मुख्य अतिथि
    कुल 196 छात्रों को दी जाएगी डिग्री
  • दस छात्रों को मिलेगी पीएचडी
    आठ छात्रों को गोल्ड व आठ को मिलेगा सिल्वर मेडल
  • विशेष संवाददाता

रांची। इक्फाई विश्वविद्यालय, झारखंड के चौथे दीक्षांत समारोह का आयोजन आर्यभट्ट सभागार में बुधवार को किया जाएगा।
समारोह का शुभारंभ पूर्वाह्न 11:30 बजे होगा। दीक्षांत समारोह का उद्घाटन राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन बतौर मुख्य अतिथि करेंगे।
वहीं,बार काउंसिल ऑफ इंडिया के अध्यक्ष मनन कुमार मिश्रा बतौर विशिष्ट अतिथि अतिथि दीक्षांत समारोह में शामिल होंगे।


इस संबंध में मंगलवार को इक्फाई विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर प्रोफेसर (डॉ.) रमन कुमार झा ने पत्रकारों को बताया कि
दीक्षांत समारोह के दौरान विश्वविद्यालय से 2023 में स्नातक करने वाले कुल 196 छात्रों को डिग्रियां प्रदान की जाएगी। जिसमें 10 पीएचडी शामिल हैं। वहीं, विभिन्न पाठ्यक्रमों के शीर्ष रैंकर और दूसरे रैंकर्स को क्रमशः 8 स्वर्ण पदक और 8 रजत पदक प्रदान किए जाएंगे।
प्रेस को संबोधित करते हुए विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर (डॉ.) रमन कुमार झा ने कहा कि इक्फाई विश्वविद्यालय विज्ञान और प्रौद्योगिकी, नवाचार, अनुसंधान, कानूनी प्रक्रिया जैसे सभी क्षेत्रों में छात्रों को तैयार करने के लिए प्रयासरत है, ताकि वे अपने नियमित शैक्षणिक प्रदर्शन के अलावा सभी क्षेत्रों में उत्कृष्टता प्राप्त कर सकें। उन्होंने कहा कि यह बताते हुए खुशी हो रही है कि आकाश वर्मा और राजनंदनी तिवारी के नेतृत्व में बीसीए कार्यक्रम के पांच छात्रों ने विभिन्न राष्ट्रीय हैकथॉन में भाग लिया और देश भर में प्रतियोगिता जीती। उन्होंने आनंद इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, चेन्नई में शिक्षा मंत्रालय, नई दिल्ली द्वारा आयोजित स्मार्ट इंडिया हैकथॉन-2023 में प्रथम स्थान हासिल किया, चंडीगढ़ विश्वविद्यालय में ई-सुरक्षा साइबर सुरक्षा राष्ट्रीय हैकथॉन में प्रथम पुरस्कार, आईआईटी आईएसएम धनबाद में कॉन्सेटो हैकथॉन में प्रथम पुरस्कार, आईआईटी बॉम्बे में एटलसियन हैकथॉन में भारत की शीर्ष टीमें फाइनलिस्ट तथा माइक्रोसॉफ्ट इमेजिन कप में सेमी फाइनलिस्ट में विजेता रहे। इसी प्रकार, एमबीए प्रोग्राम की छात्रा रितिका कुमारी ने एनआईटी कुरुक्षेत्र में ‘योवा संगम’ में भाग लिया, जहां उन्हें हरियाणा के राज्यपाल के साथ बातचीत करने का मौका मिला। कानूनी जागरूकता के माध्यम से नागरिकों को सशक्त बनाने के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झारखंड द्वारा विश्वविद्यालय द्वारा संचालित स्कूल ऑफ लॉ के “लीगल एड क्लिनिक” को सर्वश्रेष्ठ कानूनी सेवा क्लिनिक के लिए सम्मानित किया गया है।

  • स्टार्ट-अप को प्रोत्साहित करने के लिए इनक्यूबेशन सेंटर और विदेशी भाषा लैब स्थापित

प्रोफेसर (डॉ.) रमन कुमार झा ने बताया कि विश्वविद्यालय ने स्टार्ट-अप को प्रोत्साहित करने के लिए एक “इनक्यूबेशन सेंटर” और छात्रों को अंतरराष्ट्रीय नौकरी के अवसरों के लिए तैयार करने के लिए “विदेशी भाषा लैब” स्थापित करने की योजना बनाई है। इसके अलावा, विश्वविद्यालय न केवल इक्फ़ाई के लिए बल्कि पूरे झारखंड के लिए उद्योग-शैक्षणिक ज्ञान और कौशल अंतर को पाटने के लिए प्रोफेसर डॉ. अजीत कुमार सिन्हा, रांची, प्रोफेसर डॉ. डीके सिंह, जेयूटी जैसे झारखंड के अग्रणी कुलपतियों की मदद से वर्तमान शैक्षणिक वर्ष में विभिन्न समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर कर रहा है।
शिक्षा की गुणवत्ता और समाज पर इसके प्रभाव की मान्यता में, इक्फ़ाई विश्वविद्यालय, झारखंड को टाइम्स हायर एजुकेशन, लंदन और वर्ल्ड यूनिवर्सिटीज रियल इम्पैक्ट (डब्लूयूआरआई) जैसी स्वतंत्र अंतरराष्ट्रीय और भारतीय रैंकिंग एजेंसियों द्वारा गुणवत्ता में भारत के शीर्ष 10 विश्वविद्यालयों में तथा शिक्षा और औद्योगिक अनुप्रयोगों में प्रभाव के संबंध में शीर्ष 50 विश्वविद्यालयों में से स्थान दिया गया था।
इस अवसर पर इक्फाई विश्वविद्यालय के डीन प्रो.अरविंद कुमार, रजिस्ट्रार प्रो.जेबी पटनायक सहित अन्य उपस्थित थे।

Leave a Response