Tuesday, June 18, 2024
Jamshedpur News

जमशेदपुर में दो पक्षों में फायरिंग और पथराव, धारा 144 लागू

 

जमशेदपुर में दो पक्षों में फायरिंग और पथराव:धार्मिक झंडे में मांस बांधने को लेकर विवाद, पुलिस ने की लाठीचार्ज, धारा 144 लगाई

जमशेदपुर में शनिवार  रात दो पक्षों में हुए हिंसक झड़प शांत नहीं हुआ है। रविवार की शाम फिर दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए। इस दौरान जमकर पथराव और फायरिंग की गई। दुकनों में आग लगा दी गई। घटना की सूचना पर भारी संख्या में पुलिस की तैनाती की गई है। धारा 144 लगा दी है। विवाद कदमा चौक में धार्मिक झंडे में मांस का टुकड़ा बांधे जाने का लेकर शुरू हुआ था।मिली जानकारी के अनुसार झंडा लगे स्थल पर रविवार की शाम हिंदू समुदाय के लोग बैठक कर रहे थे।।  लोगों का आरोप है  कि असमाजिक तत्वों  के जरिए                                                                                                                                        
हंगामा बढ़ने के बाद पांच दुकानों में आग लगा दी गई। इसके साथ ही कई बाइक और वाहनों को भी आग के हवाले किया गया। वहीं दोनों पक्षों की ओर से पथराव भी किया गया। स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। मौके पर एसएसपी प्रभात कुमार, सिटी एसपी के विजय शंकर समेत वरीय पुलिस पदाधिकारी मौजूद है। रैप के जवानों के साथ पुलिस बल बस्ती में घुसी है। पत्थरबाजी कर रहे लोगों को धर-पकड़ किया जा रहा है। शनिवार को हिंदू संगठनों ने प्रशासन की अनदेखी के खिलाफ चौक पर ही धरना दिया। घंटों ये विवाद चला। इधर हंगामे की बात सुनकर दूसरे पक्ष के लोग भी चौक की तरफ बढ़ने लगे। इसकी जानकारी मिलते ही डीएसपी (सीसीआर) अनिमेष गुप्ता और बिष्टुपुर थाना प्रभारी अंजनी कुमार मौके पर पहुंचे और मामले को शांत कराया। विवाद के बाद किसी अप्रिय घटना की आशंका को देखते हुए घटना स्थल पर बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई। वहीं मांस की पॉलिथीन को वहां से हटा दिया गया। मौके पर पॉलीथिन हटाने को लेकर भी स्थानीय लोगों ने हंगामा किया। जिसके बाद पुलिस-प्रशासन की ओर से लोगों को काफी मशक्कत के बाद समझा कर शांत किया गया। पुलिस ने कार्रवाई करने की बात कही है। मामला शांत होने के बाद तमाम हिंदू संगठन के लोगों ने झंडे को बदला और नया झंडा लगाया। इसके बाद मौके पर ही सड़क पर हनुमान चालीसा का पाठ किया गया। आरती की गई और झंडे को शुद्ध किया गया। हिंदू संगठन के लोगों ने आरोपियों की गिरफ्तारी और कड़ी कार्रवाई की मांग की। साथ ही संवेदनशील क्षेत्र में प्रशासन की ओर से सीसीटीवी कैमरा लगाने की मांग की गई। वहीं लोगों ने चौक का नाम बजरंग चौक करने की मांग की।
माहौल शांति है, किसी भी अफवाह में ना पड़े, ना फारवर्ड करे जिला प्रशासन का सहयोग करें। किसी भी तरह की कोई बात हो तो इसकी सूचना पुलिस को दे। बैगर जांच के कोई भी चीज या न्यूज फारवर्ड ना करे। 

Leave a Response