Tuesday, July 16, 2024
Jharkhand News

रांची में बिजली स्मार्ट मीटर जनविरोधी सिद्ध हो रहा है,केरल सरकार की तर्ज़ पर स्मार्ट मीटर झारखंड सरकार हटाओ : रांची विधुत उपभोक्ता मंच

रांची विधुत उपभोक्ता मंच की बैठक कॉमरेड महेंद्र सिंह भवन,चर्च रोड़,रांची में हुई जिसकी अध्यक्षता मुखर महिलानेत्री यास्मीन लाल ने किया.

रांची में ट्रायल में लगे बिजली स्मार्ट मीटर पर पीड़ितों की 27 अगस्त को हुई जनसुनवाई के बाद भी सौकड़ों उपभोक्ता,दर्जनों मुहल्ले और दूसरे जिलों से भी पीड़ित उपभोक्ता हमलोगों को संपर्क कर अवगत कर रहें है,तब हमलोगों को भी पता चल रहा है कि स्मार्ट मीटर जब से लगा है तब से उपभोक्ताओं का बिल 3गुना से 10 गुना हो जा रहा है,साथ ही 100 यूनिट निःशुल्क बिजली पर भी असर हो चुका है,स्मार्ट मीटर जांच के नाम पर बिजली विभाग 500 रुपया भी ले रहा जो निशुल्क होना था,इस पूरे मामलें पर व्यक्तिगत रूप से उपभोक्ता या सामूहिक रूप से उपभोक्ता बिजली विभाग के अधिकारियों के पास जाते है तो उन्हें ही दोषी बना देते या अनसुना कर जाते है,इस पूरे मुद्दें पर बिजली स्मार्ट मीटर रांची सहित झारखंड में जनविरोधी सिद्ध हो रहा है.साथ ही हमलोगों लगता है कि स्मार्ट मीटर भ्रष्टाचार की भेंट है,केरल सरकार की तर्ज़ पर स्मार्ट मीटर झारखंड मुक्त हो,जिसपर विधुत उपभोक्ता अब चुप नही रहेंगे.

रांची विधुत उपभोक्ता मंच की बैठक में जनसुनवाई की समीक्षा और आगे के चरणबद्ध आंदोलन की रूपरेखा बनाई गई है.विधुत विभाग और झारखंड सरकार को जनसुनवाई से 10 दिनों का समय दिया गया था,उसके बाद आंदोलन की शुरुआत हो जाएगी.

विधुत उपभोक्ता मंच रांची का प्रतिनिधिमंडल ऊर्जा सचिव झारखंड और विधुत नियामक आयोग से मिलेगा.

रांची विधुत उपभोक्ता मंच ने सर्वसम्मति से झारखंड आंदोलनकारी लक्ष्मी नारायण मुंडा को संयोजक, झारखंड आंदोलनकारी सह पत्रकार पुष्कर महतो और एआईपीएफ झारखंड के नदीम खान को सह संयोजक बनाया गया.

रांची विधुत उपभोक्ता मंच की बैठक में भुनेश्वर केवट,समर सिन्हा,भीम साहू,सुदामा खलखो,मदन चौरसिया,मो नौशाद,सज़्ज़ाद इदरीसी,मो बब्बर,जमील अख़्तर,मो नईम, मो कलीम शामिल थे.

—–नदीम खान,रांची विधुत उपभोक्ता मंच द्वारा जारी—

Leave a Response