Sunday, July 21, 2024
Ranchi Jharkhand

शीतकालीन अवकाश का समायोजन ग्रीष्मकालिन अवकाश में जोड़कर किया जाना स्वागत योग्य : शेष त्रुटियों का भी जल्द किया जाय समाधान संयुक्त शिक्षक मोर्चा

राँची, 16 मई, 2024,
झारखंड प्रदेश संयुक्त शिक्षक मोर्चा के प्रदेश संयोजक विजय बहादुर सिंह, अमीन अहमद एवं प्रवक्ता अरुण कुमार दास ने निदेशक, जे० सी० ई० आर० टी० के पत्रांक 677, दिनांक 16/05/24 द्वारा एक समान अवकाश तालिका में आंशिक संसोधन करते हुए पूर्व घोषित ग्रीष्मावकाश 21 मई से 02 जून 2024 के अवकाश को विस्तारित करते हुए 21 मई 2024 से 07 जून 2024 तक की गई है को स्वागत योग्य कदम बताते हुए इसमें व्याप्त आंशिक त्रुटियों का भी जल्द निराकरण करने की मांग की है।
पूर्व में झारखंड प्रदेश संयुक्त शिक्षक मोर्चा के द्वय संयोजक विजय बहादुर सिंह एवं अमीन अहमद, प्रदेश मीडिया प्रभारी अरुण कुमार दास के द्वारा मांग निदेशक, जे० ई० पी० सी० एवं जे० सी० ई० आर० टी ० तथा सचिव, स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग झारखंड से की गई थी कि शीतकालीन अवकाश राज्य के प्रारंभिक विद्यालयों में घोषित नहीं रहती है, अतः शीतकालीन अवकाश जो पाँच दिनों का 01 जनवरी 2024 से 05 जनवरी 2024 तक घोषित है, उसमें नव वर्ष के अवकाश को छोड़कर कक्षाएं संचालित रही है, जबकि 23 जनवरी 2024 को सुभाष चंद्र बोस जयंती के उपलक्ष पर विद्यालय में कक्षा संचालित रहे और उक्त दिवस विद्यालयों में कार्य दिवस रहा। झारखंड राज्य उर्दू शिक्षक संघ के मो० फखरुद्दीन, मक़सूद जफर हादी, राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के राकेश श्रीवास्तव, उदय कुमार एवं अजय कुमार का लगातार साथ इस प्रयास में मोर्चा को मिलता रहा। मोर्चा द्वारा सभी कोटि के विद्यालयों के लिए लगातार एवं अथक कोशिश जारी रही। अंततः उक्त अवकाश का समायोजन ग्रीष्मावकाश में कर दिया गया। जिसमें श्री आदित्य रंजन, निदेशक,जे० सी० ई० आर० टी० महोदय ने हमारी मांग पर सहानुभूति पूर्वक विचार करते हुए पूर्ण की। झारखंड प्रदेश संयुक्त शिक्षक मोर्चा के शिक्षक प्रतिनिधि मंडल की दूसरी मांग है कि राज्य के उर्दू विद्यालयों में शुक्रवार के दिन साप्ताहिक अवकाश रहता है और रविवार के दिन कक्षाएं संचालित होती हैं, इसलिए शुक्रवार को जो अवकाश जे० सी० ई० आर० टी० के द्वारा पूर्व से उर्दू विद्यालयों के लिए घोषित है उसमे उर्दू विद्यालय के लिए शुक्रवार के दिन घोषित अवकाश की गिनती ना करके शून्य रखा जाए और जहाँ रविवार को कक्षाएं संचालित होती है उसमें जो उर्दू विद्यालय के लिए अवकाश है उसकी गिनती करके 01 माना जाए क्योंकि उर्दू विद्यालयों में रविवार के दिन कार्य दिवस है, इस प्रकार एक या दो दिनों का अवकाश उर्दू विद्यालयों को दिया जाय।
झारखंड प्रदेश संयुक्त शिक्षक मोर्चा पुनः मांग करती है कि उक्त अवकाश बकरीद पर्व के उपलक्ष्य पर राज्य के उर्दू विद्यालयों के लिए जोड़ा जाय 14 फरवरी 2024 सरस्वती पूजा एवं 24 फरवरी 2024 को रविदास जयंती के उपलक्ष्य पर विद्यालयों में कार्य दिवस रहा है अतः उक्त दो दिनों के अवकाश का समायोजन छठ पूजा में किया जाना श्रेयस्कर होगा।

Leave a Response