Ranchi Jharkhand

मदरसा नुरुल उल्लूम का वार्षिक स्पोर्ट्स कार्यक्रम का आयोजन

शिक्षा के साथ साथ खेल कूद प्रतियोगिता भी जरूरी: मौलाना अबुल हसन

रांची: मदरसा नुरुल उलूम ईदगाह टंगरा बिजोलिया रातु का वार्षिक खेलकूद उत्सव मनाया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि झारखंड अल्पसंख्यक आयोग के उपाध्यक्ष शमशेर आलम और विशिष्ट अतिथि रातु अंजुमन के अध्यक्ष अत्ताउल्लाह, और कांग्रेस नेता अजय नाथ सहदेव थे। कार्यक्रम की शुरुआत मशाल जलाकर किया गया। अतिथियों का स्वागत मदरसा के बच्चों ने सलामी देकर किया। मौके पर बोलते हुए शमशेर आलम ने कहा कि मदरसा के द्वारा इस तरह का आयोजन से बच्चों में खेल के साथ-साथ अनुशासन और स्वास्थ्य सही रहता है।

अजय नाथ शाहदेव ने कहा कि मुझे पहली बार ऐसा हुआ है कि किसी मदरसे में आकर स्पोर्ट्स कार्यक्रम होते हुए देख रहा हूं । यहां के बच्चों को देखकर मुझे बहुत खुशी। इस वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता में बच्चों ने दौड़ और तरह-तरह के खेल का आयोजन किया और सभी विजेताओं को मेडल और ट्रॉफी देकर सम्मानित किया गया। मदरसा नुरुल उलूम के अध्यक्ष अनिसुर रहमान ने कहा कि यहां दीनी और दुनियावी की पढ़ाई क्लास नर्सरी से दसवीं तक की जाती है। उसमे लगभग 250 बच्ची और बच्चे यहां शिक्षा गर्हन कर रहे हैं। मदरसा के प्रिंसिपल मौलाना अबुल हसन नदवी ने कहा की मदरसा नूरुल उलूम शिक्षा कि दीप जला रखी है। जहां रौशनी होगी वहां अंधेरा नहीं रह सकता। शिक्षा रौशनी है। कोई भी शिक्षा गलत राह नहीं दिखता।

आज जरूरत है शिक्षा के महत्व को समझने का। शिक्षा के साथ साथ खेल कूद प्रतियोगिता भी जरूरी है। हमारे मदरसा के सभी शिक्षक मेहनती हैं। इस मौके पर मदरसा के अध्यक्ष अनिसुर रहमान, मदरसा के सचिव उस्मान अंसारी , सहसचिव शफीक अंसारी, मदरसा के प्रिंसिपल मौलाना अबुल हसन नदवी, मौलाना अब्दुल जलील कासमी, नजमुल हक नदवी ,मौलाना सफरुद्दीन, तौसीफ अंसारी, जुबेर अंसारी, अफज़ल अंसारी, मुर्शीद अहमद शकीरा इस्लाही, अहमद गद्दी, महबूब, साबिर, अजीज हैदर रफीक समेत कई लोग मौजूद थे।

Leave a Response