Tuesday, May 21, 2024
Jharkhand News

स्वैच्छिक रक्तदान संगठनों का प्रतिनिधिमंडल रांची सिविल सर्जन से मिला

आज स्वैच्छिक रक्तदान संगठन लहू बोलेगा,मेहर ख़ालसा एवं गुरुनानक सेवक जत्था का प्रतिनिधिमंडल रक्तदान से संबंधित नीतिगत, व्यवहारिक मुद्दें पर रांची सिविल सर्जन डॉ प्रभात कुमार,हेड पैथोलॉजी डॉ बिमलेश कुमार सिंह एवं सदर ब्लड बैंक प्रभारी डॉ रंजू से सिविल सर्जन के कार्यालय में छह सदस्यीय टीम में लहू बोलेगा के संस्थापक नदीम खान,डॉ दानिश रहमानी,आसिफ़ अहमद,मो शाहबाज़,मेहर खालसा के जयंत,गुरुनानक सेवक जत्था के करण अरोड़ा से वार्ता हुई,

जिसमें रांची सिविल सर्जन को प्रतिनिधिमंडल के द्वारा मांगों को बताया गया,जिसपर सिविल सर्जन साहब ने एक घण्टे से अधिक समय तक गंभीरता पूर्वक सुना,नोट किया और सभी ने न्यायोचित मांगों पर अपनी सहमति देते हुए भरोसा दिया कि अविलंब पहल की जाएगी और कुछ मुद्दें को वरीय पदाधिकारियों के संज्ञान में दिया जाएगा.

न्यायोचित मांगों में–
1.रांची सदर अस्पताल में भर्ती मरीज़ को बिन पैरवी के पहली प्राथमिकता में ब्लड देना सुनिश्चित किया जाए।

2.रांची सदर अस्पताल ब्लड बैंक में आए मरीज़ के अटेंडेंट से काउंटर एवं पब्लिक संबंधित कार्यो में लगे कुछ कर्मचारियों के व्यवहार को ठीक किया जाए, मानवीय,नैतिक,व्यवहारिक पहलू पर को ध्यान में रखते हुए ट्रेनेड किया जाए।

3.रांची सदर अस्पताल ब्लड बैंक में ब्लड लेने आए अटेंडेंट की संख्या काफ़ी ज्यादा हो चुकी है इसलिए स्पेस को बड़ा किया जाए साथ ही ब्लड बैंक के सामने उचित बैठने की व्यवस्था,पंखा,पेयजल एवं शौचालय की व्यवस्था की जाए.

4.रांची सदर अस्पताल ब्लड बैंक में बच्चों के लिए ब्लड(पेंटा बैग) की अविलंब व्यवस्था की जाए,जो सदर में अब तक नही है.

5.रांची के सभी अस्पतालों में महीनें में एक बार रक्तदान शिविर लगाने की गारंटी सुनिश्चित किया जाए साथ ही रांची के सभी अस्पतालों में ब्लड बैंक की व्यवस्था सुनिश्चित किया जाए.जो अस्पताल पालन नही करें उनपर कार्रवाई सुनिश्चित हो.

6.रांची सदर अस्पताल रक्तदाता को मिलने वाला रिफ्रेशमेंट(पानी,बिस्कुट,जूस) पर 25 रुपया ख़र्च करता है जिसे कम से कम 100 रुपये किया जाए.

7.प्रत्येक रक्तदाता को टी-शर्ट,टोपी,कीरिंग सुनिश्चित किया जाए.

8.वातानुकूलित रक्तदान बोल्वो रेड बस पिछले एक महीनें से खराब पड़ी हुई है,जिसे ठीक करवाया जाए एवं रांची हेतू वातानुकूलित रक्तदान बोल्वो रेड बस खरीदा जाए.

9.ब्लड रिप्लेसमेंट डोनर कार्ड पिछले लगभग 4 सालों से अव्यवहारिक/कुतर्क/अमानवीय/नाबालिग फ़ैसले की वजह से बंद कर दिया गया था,जिसे अब समीक्षा कर चालू करने की अनुशंसा की जाए.

10.”रक्तदान क्यों करें” पर साहित्य, लिटरेचर छपाया जाए साथ ही दिवाल लेखन,मीडिया,सोशल मीडिया से जनजागरूकता फैलाई जाए.

11.रांची के धर्मगुरुओं, सामाजिक, मानवाधिकार,सामाजिक-धार्मिक-व्यापारिक संस्थानों, रक्तदान संगठनों के साथ जिला प्रशासन के साथ रक्तदान हेतू बैठक बुलाकर सहयोग मांगा जाए.

….नदीम खान,संस्थापक,लहू बोलेगा संस्था,रांची द्वारा जारी….

Leave a Response